रचना आंटी की चुदाई - Antarvasna.Us
AntarVasna.Us
Free Hindi Sex stories
Only for 18+ Readers

रचना आंटी की चुदाई

» Antarvasna » Hindi Sex Stories » रचना आंटी की चुदाई

Added : 2017-01-23 10:22:11
Views : 3432
» Download as PDF (Read Offline)
Share with friends via sms or email

You are Reading This Story At antarvasna.us
अपनी कहानिया भेजे antarvasna.us@gmail.com पर ओर पैसे क्माए

हाइ फरन्डस मैं अंतर्वसना का नियमित पाठक हू मैने अंतर्वसना की स्टोरी पड़कर कहीं बार मूठ मारी हे| मैने Antarvasna.us की स्टोरी को पड़कर उसी से प्रेरित होके अपनी पहली चुदाई की| तो मैं आपको अपनी पहली चुदाई की कहानी बताता हू|
सब्से पहले मैं अपने बारे मे बतता हू मेरा नाम अविनाश कपूर है और मैं राजस्थान के आबुर्आद मे रहता हू मेरी एज 20 साल हे| मेरा लंड 8 इंच लंबा है और 6 इंच मोटा हे जो किसी की भी चूत को फाड़ सकता हे|

मैने अपना पहला सेक्स अपने पड़ोस की रचना आंटी के साथ किया था| वो 35 साल की एक जवान औरत हे उनकी हाइट 5’6” हे और रंग उनका गोरा हे जो किसी को भी मूठ मरने पर मजबूर कर्दे और उनके बूब्स उउफ़फ्फ़ सायद हे आएसए बूब्स किसी के होंगे, मैं हमेशा से ही उनको देखकर उनको चोधने का सोचता था और उनके नाम की मूठ मारा करता था|

मैं रचना आंटी के घर जाता रहता था उनके हज़्बेंड बाहर जॉब करते हे तो वो अक्सर घर पर अकेली ही रहती हे| मुझे याद हे ज्ब 5 जन्वरी 2014 को मैं उनके घर गया उनके घर का दरवाजा खुला था तो मैं ऐसे ही घुस गया और ज्ब मैं उनके रूम मे गया तो मे देखकर हेरान रह गया रचना आंटी एक दम नंगी थी और वो ब्लू फिल्म देख रही थी और उनका हाथ उनके बूब्स पर था|

मैं तो एसी फिराक मे रहता था तो मेने जानबूझकर ज़ोर से बोला रचना आंटी ये आप क्या कर रहे हो, वो मुझे देख कर पहले तो घबराई पर फिर वो मेरे पास आई और मुझे किस करने लग गयी और मेरे कान मे बोला अवी तू मेरे नाम की मूठ मरता हे
ना और तू मुझे चोधना चाहता हे देख तेरे अंकल ने बहुत टाइम से मुझे नही चोधा हे तो क्या तू मरी चुदाई करेगा , तो मेने कहा क्यू नही आंटी मैं तुम्हे आज जी भर के चोधुन्गा मेरे इतना कहने पर बस रचना आंटी मेरे अप्पर आएसए टूट पड़ी
जेसे वो बरसो से चुधी नही हो|
पर मैने उसको रोका और कहा पहले दरवाजा ब्न्ड करने दो वरना कोई देख लेगा, मैने दरवाजा ब्न्ड किया और उसको चूमने लग गया| रचना आंटी इतनी एक्शिटेड थी की वो मुझे किस करते हुए ही मेरे लंड को अप्पर से ही सहला रही थी| और उसके बाद मैने रचना आंटी के नंगे बदन को चूमा वो सिसकारिया ले रही थी हाए क्या दूध जेसा वाइट बदन था उनका, मैने उनके बूब्स को मूह मे लिया और ज़ोर से उनके बूब्स को काट दिया वो ज़ोर से चिल्लई आआआअहह और मुझे बोला कुत्ते कटता क्यू हे. मैं अपनी पूरी ताक़त से उनके बूब्स को दबाता और चूस्ता उसको दर्द हो रा था पर वो सिर्फ़ आआहह आआहह करके सिसकारिया ले रही|
उसके बाद मैने अपना मूह उनकी चुत मे डाला और उसको चाटने ल्गा वो सिसकारिया भर रही थी आआआआअहह आअहह करके, फिर आंटी ने मेरे कपड़े उतरे और वो मेरा लंड देखकर हेरान रह गयी क्यूकी उनके पति का लंड बहुत छोटा हे वो मेरा लंड चूसने लगी और अब मुझे भी मज़ा आ रा वो मेरे लंड पर टूट पड़ी थी और आएसए चूस रही थी जेसे कोई आइस्क्रीम हो मे एसस्स्स्स्सस्स एसस्स्स्स्सस्स करते हुए उसके मूह को चोधने ल्गा|

मैं उनकी चूत मे उंगली करने ल्गा और उनके मूह से आवाज़े निकल रही थी आआअहह उुउऊहह क्मिन्हे धीरे कर आआआहह उफफफफफफ्फ़ फिर वो बोली अवी अब और सबर न्ही होता मेरी छुत को चोध दे|
मैने अपना लंड उनकी चूत पर रखा और ज़ोर का झटका मारा और मेरा आधा लंड उनकी छूट के अंदर घुस गया वो चिल्लाने लगी आआआआआहह मैं तो मर गयी निकाल इसको बाहर और वो आआआआआआहह आआआआआहह करके रोने लगी मेने उसके होटो को मेरे होटो मे दबाया और एक और ज़ोर का झटका मारा
अब मेरा पूरा लंड उनकी चूत के अंदर था वो एक दम से तड़पने लगी और आआआआआआआआआआआआहह उूुुुुउऊहहिईीईईईईईईईईईईईई छोड़ कुत्ते करके वो चीखने लगी और मुझे धक्का देकर हटाने की कौसीस भी की पर मैं भी बहुत उत्तेजित था और वो मेरी पकड़ से निकल न्ही पाई मैं कुछ देर तक उसके अप्पर लेटा रहा और ज्ब उनका दर्द कम हुआ तो मैं धीरे धीरे करके धक्के मरने ल्गा उनको अभी भी दर्द हो रहा पर मीं चुदाई करता रहा अब वो भी चूतड़ उठा उठा कर मेरा साथ दे रही और उनकी आआआआआअहह उूुुुुुुुुुुउऊहह आआआआआआआअहह उूुुुुउउम्म्म्मम की आवाज़े पूरे कमरे मे गूँज रही थी मैने अब तेज धक्के मरने चालू कर दिए वो आआआअहह आआआआआआआहह उूुुुुुुुउऊहह आआआहह क्रती रही और मैं भी एस एसस्स्स्स्स्स्सस्स करते हुए धकककककके मारता रा और कुछ देर बाद वो झड़ गयी और उसके 5 मिनिट बाद मैं भी झड़ गया.. उसके चेहरे से मुझे संत्ुस्ती की चमक दिखने लगी उसने मेरो होतो का रस पिया फिर मैं कपड़े पहनकर घर चला गया अब मुझे जब भी मौका मिलता हे तो मैं उनकी चुदाई करता रहता हू अभी वो एक महीने के पेट से हे और उर वो मेरे बचे की मा बनने वाली हे
केसी लगी आपको मेरी रियल स्टोरी

» Back
2016 © Antarvasna.Us
Kamukta, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Hindi Sex Kahani, Desi Chudai Kahani, Free Sexy Adult Story, New Hindi Sex Story