AntarVasna.Us
Free Hindi Sex stories
Only for 18+ Readers

Wife Swapping Swinging Ki Chahat Me Do Deewane

» Antarvasna » Desi Sex Stories » Wife Swapping Swinging Ki Chahat Me Do Deewane

Added : 2016-01-09 11:29:05
Views : 6884
» Download as PDF (Read Offline)
Share with friends via sms or email

You are Reading This Story At antarvasna.us

दोस्तो आप सब को नए साल की बधाई, दुआ करता हूँ कि कोई भी पुरुष या महिला, लड़की या लड़की जो कोई भी अन्तर्वासना पे कहानियाँ पढ़ता या पढ़ती है, ऊपर वाला उन सबकी इच्छा पूरी करे, किसी को हाथ से करने की ज़रूरत न पड़े, सब को एक साथी मिले, सब चुदें चुदवाएँ, ज़िंदगी की मज़े लें!

मैं आपको एक नई बात बताने जा रहा हूँ। बात इसलिए कहा क्योंकि यह कोई कहानी नहीं, बिल्कुल सच्ची बात है।

मेरी एक कहानी पढ़ कर मुझे एक दंपति ने ईमेल भेजा और पूछा कि क्या मैं किसी ऐसे वाइफ़ स्वैपिंग क्लब Wife Swapping Club के बारे में जानता हूँ, जैसा मैंने अपनी कहानी में बताया है।
अब वो कहानी तो मेरी काल्पनिक थी तो मैंने असमर्थता ज़ाहिर कर दी मगर उनसे पूछा कि वो ऐसा क्लब क्यों ढूंढ रहे हैं।
तो जो उन्होंने मुझे बताया, उससे तो मेरे रोंगटे खड़े हो गए।
क्या जोड़ी है दोनों की!

तो लीजिये दोनों की काल्पनिक कहानी नहीं सच्ची गाथा सुनिए। इसमें मैंने सिर्फ नाम बदले हैं।

मेरा नाम कपिल है, मैं 35 साल का हूँ, मेरी पत्नी का नाम पायल, वो 32 साल की है। हम दोनों सुंदर, सेक्सी, स्वस्थ और बहुत ही रोमांचक जोड़ी हैं।
हमारी शादी को कोई 6-7 साल हो गए हैं, एक बच्चा भी है।

बात दरअसल यह है कि हम दोनों ही बहुत ही अड्वेंचर लविंग हैं, हमें नई नई चीज़ें देखने सुनने, नए नए और अजीब अजीब काम करने का शौक है।
खास बात यह कि मेरी पत्नी का स्वभाव भी बिल्कुल मुझसे मिलता है।

अब मैं तो शुरू से बहुत जोशीला रहा हूँ, जिस उम्र में बच्चों को अपनी नाक साफ करने नहीं आती, उस उम्र में मैंने सेक्स कर लिया था। अपनी क्लास में मैं पहला था, जिसने किसी को चोदा था, चाहे वो एक रंडी थी, पर चुदाई तो चुदाई ही होती है।

ऐसे ही मेरी बीवी है, उसने भी शादी से पहले बहुत बार सुहागरात और सुहाग दिन मना रखे थे।

जब हमारी शादी हुई तो मैंने अपनी पत्नी से कुछ नहीं छुपाया और उसने मुझसे कुछ नहीं छुपाया। सुहागरात के अगले दिन ही पायल ने खुद मेरे ऊपर बैठ कर चुदवाया था और उसी रात मैंने उसकी गान्ड मारी थी।

शादी के तीन बाद हम हनीमून के लिए मनाली गए जहाँ हम दोनों ने अपने अपने सारे कच्चे चिट्ठे एक दूसरे को बताए। हमारी जोड़ी तो जैसे ऊपर वाले ने बड़ी सोच समझ कर बनाई थी।

सेक्स के हम दोनों बहुत ही दीवाने हैं, बहुत से नए नए खेल खेलते हैं हम आज भी।
सेक्स का कोई भी पोज ऐसा नहीं जिसे हमने अपने ऊपर आज़मा कर नहीं देखा।
मैं अपनी पत्नी पायल की चूत तब तक चाट सकता हूँ, जब तक वो मेरे मुँह में ही न झड़ जाए और उसकी चूत के होंठ मेरी चटाई से सूज न जाएँ।

मेरी पत्नी पायल मेरा लंड तब तक चूस सकती है, जब जब तक मैं उसके मुँह में ही न झड़ जाऊँ, मेरा सारा माल पीने के बाद भी वो मेरा लंड चूसती रहती है, झड़ने के बाद लंड ढीला पड़ जाता है और उसके चूसने से धीरे धीरे फिर से तन जाता है और फिर से मैं उसके मुँह में झड़ जाता हूँ।

मेरे पास हम दोनों की ढेरों नंगी अधनंगी सेक्स करते हुये की फोटो और वीडियो बना के रखी हैं। खैर वो सब आपके लिए नहीं हैं, वो हमारी प्राइवेसी है।
इसके अलावा हमारे पास बहुत से सेक्स खिलौने हैं जो हम दोनों इस्तेमाल करते हैं, जैसे मैं पायल के ऊपर सेक्स डॉल लेटा कर उससे सेक्स करता हूँ, पायल मेरे सामने डिल्डो यानि के प्लास्टिक के नकली लंड से चुदवाती है।
कभी वो काम वाली बन कर, मेरी टीचर बन कर या फिर मैं कभी उसका ठर्की बॉस बन कर या सेल्ज़्मन बन कर उससे सेक्स करता हूँ।
और तो और बाहर खुले में सेक्स करना, गाड़ी में जाते हुये पायल का लोगों को अपने बूब्स निकाल के दिखाना, और न जाने ऐसे क्या क्या काम हमने किए हैं, पर हमारी कुछ नया करने की भूख फिर भी शांत नहीं होती।

जब सेक्स के सभी तौर तरीके हमने आज़मा लिए तो कुछ और नया करने की सोचा।
आपको एक उदाहरण देता हूँ जिससे आपको हमारे पागलपन का अंदाज़ा हो जाएगा।

एक रात को मैं और मेरी बीवी दोनों कनॉट प्लेस, दिल्ली में घूम रहे थे, तभी मेरे दिमाग में एक आइडिया आया, मैंने पायल से पूछा- अगर इस वक़्त मैं तेरे लिए कोई ग्राहक ले कर आऊँ, तो चुदेगी उससे?
पायल ने बड़े ध्यान से मेरी आँखों में देखा और बोली- अगर दल्ला बन कर लाओगे, तब तो चुद लूँगी।
मैंने पूछा- पक्का? मेरे सामने?
वो हंसी और बोली- हाँ, तुम कहो तो कुत्ते से भी चुद जाऊँ!

मैंने उसे आँख मारी और अपनी इच्छा को पूरा करने के लिए किसी को ढूँढने लगा।
मेरी नज़र सामने एक आदमी पर पड़ी, वो भी मुझे लगा शायद किसी रंडी की तलाश कर रहा था।
मैं उसके पास गया और पूछा- कुछ ढूंढ रहे हैं सरकार?
उसने मेरी तरफ देखा और बोला- क्यों, क्या तेरे पास कुछ है?
मैंने कहा- जी बिल्कुल है, देखेंगे आप?
वो बोला- चल दिखा!

वो मेरे पीछे पीछे आ गया, थोड़ा आगे जाकर मैं उसे पालिका बाज़ार की तरफ पार्क में ले गया, वहाँ पे पायल खड़ी थी।
मैंने उसे दिखाया।
जब हम पास आए तो पायल भी किसी रंडी की तरह एक्टिंग करने लगी।
मैंने पूछा- क्यों हुज़ूर, माल पसंद आया?
वो पायल के पास गया और उसे ऊपर से नीचे तक बड़े ध्यान से देखा।

उस वक़्त पायल ने टी शर्ट और टाइट जीन्स पहनी थी। उस आदमी ने बड़ी बेतकल्लुफ़ी से पायल की बाजू पकड़ के अपने पास खींचा और फिर एक हाथ से पायल के बूब को पकड़ कर दबाया, और बोला- माल तो सॉलिड है, कितने में चलेगी?

पहली बार मेरे सामने किसी गैर मर्द ने मेरी बीवी को इस तरह से छूआ था, मुझे थोड़ा अजीब सा लगा और पायल को भी, मगर कुछ नए की चाह में हमने इस एहसास को दबा लिया।

पायल तो कुछ नहीं बोली, मैंने कहा- हुज़ूर, एक ट्रिप के 3000 और पूरी रात रखनी है तो 15000 लगेंगे।
वो आदमी बोला- अरे पूरी रात क्या करनी है, बस एक बार मज़ा दे दे, बहुत है।

मैंने पूछा- कहाँ लेकर जाओगे?
उसने पायल को घुमाया और पीछे से उसके मोटे गोल चूतड़ों पर हाथ फेर कर बोला- जगह तो मेरे पास नहीं है, तुम्हारे पास है तो बोलो, पैसे मैं दे दूँगा।
अब तो बात बिल्कुल साफ थी, मेरी बीवी रंडी बन चुकी थी और मैं दल्ला।
उस आदमी ने जेब से अपना बटुआ निकाला और 3000 निकाल के मुझे दे दिये- ये ले पकड़ और चल जहाँ चलना है?
वो बोला।
मैं क्या बोलता, यह तो मज़ाक मज़ाक में बात बढ़ गई थी।

उसने पायल को पीछे से अपनी बाहों में ले लिया और उसके दोनों बूब्स दबा के बोला- नाम क्या है तेरा?
पायल ने भी मटक कर कहा- पायल!
‘क्या क्या करती है?’ उसने फिर पूछा।
‘जो भी आप करवाना चाहो!’ पायल ने जवाब दिया।
‘मेरा मतलब, लंड चूसती है, गान्ड मरवाती है, कोई नखरा तो नहीं करती?’ उसने पूछा।
पायल बोली- अरे नहीं सेठ, सब करती हूँ, जो चाहे जैसे चाहे करवा लो।

मैं तो देख कर हैरान था, मुझे तो ऐसे लग रहा था जैसे पायल सच में रंडी हो। मगर ये सब अब मेरे बर्दाश्त के बाहर हो रहा था।
तो मैंने कहा- देखो सेठ, जगह तो हमारे पास भी नहीं है, अगर तुम्हारे पास है कोई इंतजाम हो तो चलो।
वो बोला- अरे नहीं यार, मेरे पास कोई जगह नहीं, तुम लोग रखा करो जगह का इंतजाम करके?
उसने थोड़ा खीज कर कहा।

खैर बात सिरे नहीं चढ़ी और हम दोनों वहाँ से वापिस आ गए।

घर आकर मैंने पायल से पूछा- अगर उसके पास जगह होती और वो तुम्हें ले जाता तो क्या करती?
पायल बोली- डर तो मुझे भी लगा था, कि क्या मैं सचमुच उस से चुदूंगी।

Swinging or Wife Swapping
मगर मेरे दिमाग में एक और विचार आया- पायल, एक बात बता, कैसा लगे अगर कोई ऐसा जोड़ा हमें मिले जो हमारी तरह ही सोचता हो, हमारे जैसा ही हो, हम चारों आपस में एक दूसरे को शेयर करें। मैं उसकी बीवी को चोदूँ और तुम उसके पति से चुदवाओ, चारों जन बिल्कुल नंगे, एक दूसरे के सामने पूरी बेशर्मी से!
मैंने अपने दिल की बात कही।

‘तुम्हारा मतलब वाइफ़ स्वैपिंग क्लब Wife Swapping Clubs?’ पायल ने पूछा।
मैंने कहा- हाँ, तुम्हें कैसे पता?
वो बोली- मैंने इंटरनेट पे पढ़ा था। तो पता करो दिल्ली में ऐसा कोई क्लब कहाँ पर है, या ऐसा कोई जोड़ा कहाँ पे मिल सकता है, जिससे कांटैक्ट करके हम दोनों अपनी इस इच्छा को भी पूरी कर सकें!’

अगर आप मेरे साथ अपनी पत्नी शेयर करना चाहते हैं या किसी वाइफ़ स्वैपिंग ग्रुप Wife Swapping Group के मेम्बर हैं तो प्लीज हम दोनों को भी शामिल कर लीजिये!
alberto62lopez@yahoo.in

» Back
2016 © Antarvasna.Us
Kamukta, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Hindi Sex Kahani, Desi Chudai Kahani, Free Sexy Adult Story, New Hindi Sex Story